समाचार विवरण  
 Mail to a Friend Print Page   Share This News Rate      
Save This Listing     Stumble It          
 

 मोदी ने पटेल की प्रतिमा का अनावरण किया, कहा- स्मारकों को कुछ लोग राजनीतिक चश्मे से देखते हैं (Wed, Oct 31st 2018 / 14:16:45)

केवड़िया (गुजरात). प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यहां बुधवार को सरदार वल्लभ भाई पटेल की 182 मीटर ऊंची प्रतिमा का अनावरण किया। इससे पहले उन्होंने गंगा, यमुना, नर्मदा समेत 30 छोटी-बड़ी नदियों के जल से प्रतिमा के पास स्थित शिवलिंग का अभिषेक किया। 30 ब्राह्मणों ने मंत्रोच्चार किया। सरदार सरोवर पर बनी पटेल की यह प्रतिमा ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ दुनिया में सबसे ऊंची है।
प्रतिमा के अनावरण के बाद इस पर वायुसेना के एमआई-17 हेलिकॉप्टरों से पुष्प वर्षा की गई
मोदी ने कहा, ‘‘बीते चार सालों में कई महापुरुषों के संग्रहालय जैसे हरियाणा में सर छोटूराम, कच्छ में श्यामजी कृष्ण वर्मा का स्मारक बनाया गया है। 26 नवंबर को संविधान दिवस मनाने का ऐलान किया गया है। लेकिन कुछ लोग इसे राजनीति के चश्मे से देखने का प्रयास करते हैं। ऐसा अनुभव कराया जाता है कि हमने बहुत बड़ा अपराध कर दिया हो।’’
मोदी ने कहा- सरदार पटेल ना होते तो हैदराबाद की चारमीनार देखने के लिए वीजा लेना पड़ता
सरदार पटेल के इरादों जैसी मजबूत चट्टान नहीं मिली
मोदी ने कहा, ‘‘जब मैं यहां की चट्टानें देख रहा था तो लगा कि इतनी बड़ी प्रतिमा के लिए कोई चट्टान इतनी मजबूत नहीं थी। दुनिया की ये सबसे ऊंची प्रतिमा उस व्यक्ति के साहस, संकल्प की याद दिलाती रहेगी जिसने मां भारती को खंड-खंड टुकड़ों में करने की साजिश को नाकाम किया। ऐसे महापुरुष को मैं शत-शत नमन करता हूं। जब मां भारती 550 रियासतों में बंटी थी और दुनिया में भारत के भविष्य को लेकर निराशा थी, सभी को लगता था कि भारत अपनी विविधताओं की वजह से बिखर जाएगा। सभी को एक ही किरण दिखती थी और वो थे- सरदार वल्लभ भाई पटेल।’’
सरदार पटेल की प्रतिमा का अनावरण
और क्या कहा मोदी ने?
कार्यक्रम में दिखी 33 राज्यों की संस्कृति की झलक
स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के अनावरण समारोह में देश के 33 राज्यों की संस्कृति की झलक दिखाई दी। यूनिटी वॉल से स्टैच्यू ऑफ यूनिटी तक सवा दो किमी लंबे मार्ग पर 900 कलाकारों ने खड़े होकर प्रधानमंत्री का स्वागत किया
मोदी ने फूलों की घाटी देखी
स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के लोकार्पण से पहले मोदी ने यहां फूलों की घाटी ‘एकता नर्सरी’ का दौरा किया। मोदी ने गुजरात के मुख्यमंत्री रहते हुए 2003 में इस प्रोजेक्ट को मंजूरी दी थी। इस परियोजना पर 2013-14 में काम शुरू हुआ था। मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद फूलों की घाटी के निर्माण कार्य में तेजी आई है। गुजरात सरकार ने इसके लिए 12 करोड़ रुपए का बजट मंजूर किया है।
स्टैच्यू ऑफ यूनिटी की खासियत
भास्कर सबसे पहले लाया था स्टैच्यू ऑफ यूनिटी की संपूर्ण तस्वीर और वीडियो
#Sardar Patel statue #Sardar Patel
Recommended
You Might Also Like
Recommended by --Advertisement--
सरदार पटेल की विशाल प्रतिमा के पैरों के पास खड़े प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। 2 / 22
सरदार वल्लभ भाई पटेल की 143वीं जयंती पर गुजरात के केवड़िया में हुआ अनावरण
182 मीटर की यह दुनिया में सबसे ऊंची प्रतिमा, इसे स्टैच्यू ऑफ यूनिटी नाम दिया गया
पटेल की प्रतिमा में 85% तांबे का इस्तेमाल, इसे बनाने में पांच साल लगे
पटेल में कौटिल्य की कूटनीति और शिवाजी के शौर्य का समावेश था। 5 जुलाई, 1949 को रियासतों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा था- विदेशी आक्रांताओं के सामने हमारे आपसी झगड़े, बैर का भाव हमारी हार की वजह बने। अब इस गलती को दोहराना नहीं है और किसी का गुलाम नहीं होना है।
सरदार साहब के कहने पर राजे-रजवाड़ों ने देश में विलय कर लिया। राजे-रजवाड़ों का एक वर्चुअल म्यूजियम तैयार किया जाना चाहिए ताकि उनकी चीजों को याद रखा जा सके।
अगर सरदार साहब ने काम नहीं किया होता तो गिर के शेर देखने, शिवभक्तों को सोमनाथ में पूजा करने और हैदराबाद की चारमीनार देखने के लिए वीजा लेना पड़ता।
अगर सरदार साहब का संकल्प नहीं होता तो सिविल सर्विस का ढांचा तैयार नहीं होता। सरदार ने कहा था- अब तक जो इंडियन सिविल सर्विस थी न तो वह इंडियन थी, न उसमें सिविल और सर्विस जैसा कुछ था।
महिलाओं को भारत की राजनीति में सक्रिय योगदान का अधिकार देने में उनका योगदान था। उनकी पहल पर भी आजादी के कई दशक पहले महिलाओं के राजनीति में आने का रास्ता खोला गया।
देश के इतिहास में ऐसे अवसर आते हैं जो पूर्णता का अहसास कराते हैं। आज का ये दिन उन्हीं क्षणों में से एक है। आज भारत के वर्तमान ने अपने इतिहास के स्वर्णिम पुष्प को उजागर करने का काम किया। आज धरती से आसमान तक सरदार साहब का अभिषेक हो रहा है।
नर्मदा नदी पर बने सरदार सरोवर बांध पर बनी यह मूर्ति सात किलोमीटर दूर से नजर आती है। यह दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा है। इससे पहले चीन की स्प्रिंग बुद्ध सबसे ऊंची प्रतिमा थी। इसकी ऊंचाई 153 मीटर है। इसके बाद जापान में बनी भगवान बुद्ध की प्रतिमा का नंबर आता है जो 120 मीटर ऊंची है। तीसरे नंबर पर न्यूयॉर्क की 93 मीटर ऊंची स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी है।
2021 में भारत सरदार पटेल से भी ऊंची प्रतिमा बना लेगा। 212 मीटर ऊंची छत्रपति शिवाजी की यह प्रतिमा मुंबई के पास अरब सागर में बन रही है।
स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के निर्माण में पांच साल का वक्त लगा। सबसे कम समय में बनने वाली यह दुनिया की पहली प्रतिमा है। लागत 2990 करोड़ रुपए है।
स्टैच्यू ऑफ यूनिटी को सिंधु घाटी सभ्यता की समकालीन कला से बनाया गया है। इसमें चार धातुओं के मिश्रण का इस्तेमाल किया गया है। इससे इसमें बरसों तक जंग नहीं लगेगी। स्टैच्यू में 85% तांबा इस्तेमाल हुआ है।
स्टैच्यू में लगी लिफ्ट से पर्यटक प्रतिमा के हृदय तक जा सकेंगे। यहां से लोग सरदार सरोवर बांध के अलावा नर्मदा के 17 किमी लंबे तट पर फैली फूलों की घाटी का नजारा देख सकेंगे।
प्रतिमा में सरदार के चेहरे की बनावट तय करने के लिए दस लोगों की कमेटी बनाई गई थी। सभी की सहमति के बाद 30 फीट का चेहरा बना गया। इसे 3डी तकनीक से तैयार किया गया है।
पटेल की प्रतिमा के होंठ, आंखें और जैकेट के बटन 6 फीट के इंसान के कद से बड़े हैं। इसमें 70 फीट लंबे हाथ हैं, पैरों की ऊंचाई 85 फीट से ज्यादा है। इसे बनाने में 3400 मजदूरों और 250 इंजीनियरों ने लगभग 42 महीने काम किया।
सरकार स्टैच्यू ऑफ यूनिटी को पश्चिम भारत के सबसे शानदार पर्यटक स्थलों के रूप में विकसित कर रही है। यहां पर्यटकों के आकर्षण के लिए कई और सुविधाएं बनाई जा रही हैं। पर्यटक यहां रुक भी सकेंगे।
प्रतिमा स्थल पर लेजर शो चलेगा। पास में ही म्यूजियम, रिसर्च सेंटर और फूड कोर्ट होगा। प्रतिमा पर कमर से ऊपर लेजर शो के जरिए सरदार पटेल की जीवन यात्रा दिखाई जाएगी।
सरदार म्यूजियम भी होगा। जहां पटेल से जुड़े 40 हजार दस्तावेज, 2 हजार दुर्लभ फोटो होंगी। नेहरू, अंबेडकर, सरोजिनी नायडू जैसी विभूतियों के संविधान सभा में दिए भाषण के ऑडियो टेप भी म्यूजियम में होंगे।
यहां 45 हेक्टेयर में टाइगर सफारी बनाई जाएगी, कच्छ की तर्ज पर 250 रूम की टेंट सिटी बनेगी, इसमें 500 लोग ठहर सकेंगे सरदार सरोवर बांध से 4 किमी दूर साधु बेट में कच्छ के रण की तरह टेंट सिटी बसाई जा रही है।

 
  समान समाचार  
Budget 2019: नई पेंशन योजना की घोषणा, हर महीने मिलेंगे 3000 रुपए
मोदी सरकार का बड़ा ऐलान: किसानों को प्रति वर्ष दिए जाएंगे 6000 रुपये, तीन किस्तों में मिलेंगे पैसे
देश के चार राज्यों में आचार संहिता लागू, चुनाव की तारीखें घोषित
अब दहेज के मामले में तत्काल होगी गिरफ्तारी, कोर्ट ने फैसले में किया ये बदलाव...
भारत बंद: प्रदेश सरकार के मंत्री ने कहा- कांग्रेस के गुंडे करा रहे बंद, उज्जैन में पेट्रोल पंप में तोड़फोड़, कटनी में रेल रोकी
एससी-एसटी एक्ट का विरोध: सवर्णों का आज भारत बंद, 35 जिलों में हाईअलर्ट, फोर्स तैनात
भागवताचार्य देवकीनंदन ठाकुर की सरकार को चेतावनी: कहा- दो महीने में एक्ट बदलो, नहीं तो हम देंगे स्थाई समाधान
अब देश ही नहीं विदेश में भी मुफ्त बनेगा आपका जाति प्रमाण पत्र
बैंगनी रंग का होगा 100 का नया नोट, देवास में छपाई शुरू; अगले माह आरबीआई कर सकता है जारी
SC का बड़ा फैसला, ट्रेन में चढ़ते-उतरते वक्त हादसा हुआ तो रेलवे को देना होगा मुआवजा...
नाबालिग से रेप केस में आसाराम को ताउम्र कैद की सजा
नाबालिग से रेप केस मामले में जोधपुर कोर्ट ने आसाराम को दोषी करार दिया
आज की तस्वीरें  
सभी फोटो गैलरी देखें
 
समाचार चैनल  
स्थानीय ख़बरें
राजनीति
खेल खबर
स्वास्थ्य
उद्योग-व्यापर
अपराध
योग-व्यायाम
जीवन शैली
धर्म-आस्था
राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय
रोजगार-कैरियर
मनोरंजन
न्यायालय-आदेश
अनुसंधान-प्रयोग
सरकार-शासन
गैजेट&ऑटोमोबाइल
अजब गजब
 
राज्य समाचार  
मध्य प्रदेश
 
राशिफल   
 
लाइव अपडेट  

Advertise With Us

संपकॆ करेॆ-
Bhupendra Singh
प्रधान संपादक
Super Fast News
mob.: +8819917385
             7000772733

bhupendranews11@gmail.com
अपना सन्देश लिखें:

 
 
 
 
 
होम  | अपराध  | राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय  | धर्म-आस्था  | अजब गजब  | योग-व्यायाम  | गैजेट&ऑटोमोबाइल  | राजनीति  | अनुसंधान-प्रयोग  | स्वास्थ्य  | खेल खबर  | उद्योग-व्यापर  | सरकार-शासन  | न्यायालय-आदेश  | स्थानीय ख़बरें  | रोजगार-कैरियर  | मनोरंजन  | जीवन शैली  | त्रिपुरा  | गोवा  | तमिलनाडु  | केरल  | पांडिचेरी  | राजस्थान  | मेघालय  | अंडमान एवं निकोबार  | बिहार  | मिजोरम  | लक्षद्वीप  | पंजाब  | असम  | महाराष्ट्र  | पश्चिम बंगाल  | दमन और दीव  | उत्तर प्रदेश  | दादरा और नगर हवेली  | जम्मू और कश्मीर  | आंध्र प्रदेश  | अरुणाचल प्रदेश  | नगालैंड  | झारखंड  | हिमाचल प्रदेश  | उत्तरांचल  | हरयाणा  | मध्य प्रदेश  | छत्तीसगढ़  | उड़ीसा  | कर्नाटक  | मणिपुर  | सिक्किम  | दिल्ली  | नियम एवं शर्तें  | गोपनीयता नीति  | विज्ञापन हमारे साथ  | हमसे संपर्क करें
superfastnews.co.in Copyrights 2016-2017. All rights reserved. Design & Development By MakSoft
 
Hit Counter